Periods late होने की वजह क्या है? क्या है इसका हल क्या है?

0
129

Periods late होना अब बहुत ही आम बात हो गई है। क्योंकि, आज के खान-पान में वह सारे पोषक तत्व नहीं मिल पाते है, जिसकी ज़रूरत महिलाओं एवं लड़कियों को होती है। इस समस्या की पूरी जानकारी तो खुद महिलाओं को भी इतनी अच्छे से नहीं होती है। खासतौर पर छोटे शहरों की महिलाएं उन्हें तो इन बातों के बारें में कोई अंदाज़ा ही नहीं होता। इसीलिए उनके लिए ‘Awareness camps’ organize किए जाते है। 

किन्तु, आज भी जब किसी लड़की को Periods late  होते है तो लोगों के दिमाग में पहला खयाल अक्सर यही आता है कि कहीं लड़की Pregnant तो नहीं?

तो हम आपको बता दें कि पीरियड्स देरी से आने का कारण हर बार Pregnancy नहीं होती है।

आइए जानते है,Periods late होने की वजह – 

उम्र का क्या सम्बन्ध है periods के साथ जानें?

periods late kyu?

यह जवाब दो हिस्सों में बटा है चलिए जानते है –

  1. अक्सर जब लड़कियाँ पहली बार पीरियड्स में होती है, उसके शुरुआती कुछ महीनों में याँ कई बार तो एक साल तक यह तकलीफ़ रहती है। कई बार तो पीरियड्स आते कुछ महीने तक आते ही नहीं है। किन्तु, इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है यह अक्सर लड़कियों के साथ होता है। आज की लड़कियों को पीरियड्स 10 साल की उम्र में भी आता है। इसीलिए कई बार पीरियड्स छोटी उम्र में आने के कारण यह समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  2. बढ़ती उम्र के कारण भी Periods irregular होते है। कई बार 40 से पहले भी Menopause की समस्या उत्पन्न होती है। इसलिए यदि 4-5 सप्ताह में बढ़ती उम्र में पीरियड्स ना आएं तो डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

Menopause की कुछ बाते जो बढ़ा देती है heart attack का खतरा!

जिन लड़कियों को 15 साल की उम्र तक पीरियड्स शुरू नहीं हुए।

याँ फिर जिन महिलाओं ने लगातार तीन याँ उससे ज्यादा पीरियड मिस किए है।

उन्हें एमेनोरिया (amenorrhea) होने की संभावना काफी ज़्यादा होती है।

तनाव हो सकता है, पीरियड्स miss होने का कारण।

stress - periods late hone ki wajah!

तनाव पीरियड्स miss होने का दूसरा सबसे आम कारण है – आज की लड़कियों में। यह भावनात्मक तनाव हो सकता है (उदाहरण के लिए, एक प्रेमी के साथ Break up) याँ अवसाद (Depression)। यह शरीर के लिए शारीरिक तनाव हो सकता है। आपकी सामान्य दिनचर्या में बदलाव (उदाहरण के लिए, छुट्टी पर जाना) भी आपकी अवधि के देर से या छूटने का कारण हो सकता है।

कुछ तनाव दैनिक जीवन का एक सामान्य हिस्सा होते  है। आपके शरीर के लिए बहुत अधिक तनाव देरी से याँ missed अवधि का कारण हो सकता है। जब आप अपनी गतिविधियों या स्थिति को बदलते है तो आपके पीरियड्स वापस Regular हो जाते है।

डिप्रेशन की बीमारी है तो क्या करे?

READ  दूधी-Capcicum की इडली - यह yummy और healthy डिश को जानें कैसे बनाएं।

हार्मोन का असंतुलन होना!

Hormonal Imbalance

कुछ मामलों में हार्मोन असंतुलन missed पीरियड्स की वजह बनता है। उदाहरण के लिए, यदि आप गर्भनिरोधक गोलियाँ (Birth control pills) लें रहे हो – तो आपके पीरियड्स कुछ समय के लिए अनियमित हो सकते है जब आप गोलियाँ लेना बंद कर देते है। हार्मोन सप्लीमेंट लेकर यह ठीक किया जा सकता है।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (POCS)।

Polycystic Ovary Syndrome (PCOS)

यह एक ऐसी स्थिति है जो आपके शरीर को पुरुष हार्मोन एण्ड्रोजन (Androgen) का अधिक उत्पादन करने का कारण बनती है। इससे ओव्यूलेशन अनियमित बन सकता है याँ इसे पूरी तरह से रोक सकता है। Polycystic ovary syndrome नामक एक दुर्लभ समस्या लड़कियों के मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकती है। Polycystic ovary syndrome  अनियमित चक्र, अधिक शरीर के बाल, मुँहासे और वजन बढ़ने का कारण हो सकती है। यह आपके स्वास्थ्य सेवा प्रदाता द्वारा निर्धारित हार्मोन दवा के साथ इलाज किया जा सकता है।

अन्य हार्मोन, जैसे इंसुलिन, भी संतुलन से बाहर निकल सकते हैं। यह इंसुलिन प्रतिरोध के कारण है, जो POCS से जुड़ा है। 

शरीर में वजन घटना।

losing weight fast

आहार विकार वाली महिलाएं, जैसे Anorexia,  Nervosa, Bulima पीरियड्स की गतिविधि धीमी हो सकती है। आपकी ऊंचाई के लिए एक सामान्य श्रेणी के रूप में जो माना जाता है उससे 10 प्रतिशत नीचे, आपके शरीर के कार्यों को बदल सकता है। साथ ही Ovulation को भी रोक सकता है। 

वजन घटाना है तो बहुत ही आसान है अब! जानिये कैसे?

जीर्ण रोग (Chronic disease)।

Chronic Diseases

जीर्ण रोग (Chronic disease) जैसे मधुमेह और सीलिएक रोग (celiac disease) भी आपके मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकते है। सीलिएक रोग सूजन का कारण बनता है जो आपकी Small intestine को नुकसान पहुंचा सकता है। आपके शरीर को महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को अवशोषित करने से रोक सकता है। यह देर से या मिस्ड पीरियड्स का कारण बन सकता है।

Thyroid से लड़ रहे है? क्या करे और कैसे ठीक करे?

अन्य कुछ और कारण periods late होने के! 

  • Diabetes याँ Thyroid  के होने से Periods late हो सकते है। डायबिटीज़ की बीमारी के होने से ज़्यादातर महिलाओं को यह समस्या आती है। साथ ही थायरॉयड के कारण भी यह समस्या उत्पन्न हो सकती है। 
  • अच्छे से नींद ना लेना भी इस समस्या का कारण हो सकता है।
  • तेज़ी से वजन बढ़ना।

व्यायाम एवं एक्सरसाइज से करें अपने Periods late होने की समस्या दूर।

स्वस्थ रहने के लिए प्राचीन काल से भारत में लोग व्यायाम का सहारा लेते है। यही कारण है, की आज पहले कि महिलाओं को इतनी कठिनाइयों का सामना नहीं करना पढ़ता है। चलिए अब जानते है, कौन-कौन से और कैसे करें व्यायाम।

Ustrasana (ऊंट मुद्रा)

Ustrasana आपके पीरियड्स को नियमित करने और मासिक धर्म के दर्द से राहत देने के लिए एक बेहतरीन व्यायाम है। यह कंधे और पीठ को भी मजबूत करता है, और आपके आंतरिक अंगों की मालिश करता है।

जानें कैसे करें यह – 

READ  Swasth रहने के लिए बहुत जरूरी है इन Hormone के बारे में विस्तार Se!

Ustrasana Camel Pose

  • सबसे पहले फर्श पर घुटने टेके।
  • अपने शरीर को पीछे की ओर बढ़ाएं और अपनी एड़ी को पकड़ें। 
  • अपने shoulders को आगे बढ़ाएं और सिर को पीछे छोड़ें। 
  • लगभग 25 सेकंड के लिए स्थिति को karo और फिर मूल स्थिति में वापस आएं।

तितली आसान (Butterfly pose)

Periods late की समस्या के उपचार के लिए सबसे बेहतर आसन में से एक है तितली आसान। यह रक्त परिसंचरण में सुधार करता है। तितली आसान भी तनाव से राहत देता है। यह आसान प्रसव के लिए गर्भवती महिलाओं के लिए भी फायदेमंद है।

जानें यह आसन कैसे करें – 

Butterfly Pose

  • अपने घुटनों को मोड़ कर और अपने पैरों के तलवों को एक-दूसरे को छूते हुए फर्श पर बैठकर शुरू करें। 
  • अपने पैरों को कसकर पकड़ें और अपने पैरों को हिलाए बिना अपनी जांघों को ऊपर-नीचे करें। 
  • इसे कुछ मिनट के लिए करें।

भुजंगासन (कोबरा मुद्रा)

Bhujangasana आपके प्रजनन अंगों के लिए एक उत्कृष्ट योगासन है। यह पाचन में भी सुधार करता है, और रक्त परिसंचरण में सुधार करता है।

इसे कैसे करें? 

Bhujangasana

  • फर्श पर पेट के बल लेट कर शुरुआत करें।
  • अपने पैरों को एक साथ और अपनी हथेलियों को अपने चेहरे के पास जमीन पर रखें। 
  • अब, अपनी हथेलियों को नीचे की और धकेलते हुए अपने ऊपरी शरीर को ऊपर की ओर खींचें। 
  • जितना हो सके अपनी गर्दन को stretch करने की कोशिश करें।
  •  कुछ मिनट के लिए इस स्थिति को करो और फिर मूल स्थिति पर लौट आएं। इसे लगभग तीन बार दोहराएं।

आप मलासना (Garland pose), सर्यनमश्कार, धनुरासन, जैसे आसान भी कर सकते है।

क्या सेवन करने से Periods late होने की समस्या उत्पन नहीं होती है?

PERIODS आते हैं लेट तो खाऐं ये

विटामिन C का सेवन करें।

कुछ लोग मानते है कि विटामिन C, जिसे एस्कॉर्बिक एसिड (Ascorbic Acid) भी कहा जाता है, आपकी अवधि को प्रेरित कर सकता है। लेकिन इस दावे का समर्थन करने के लिए कोई विश्वसनीय वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है।

विटामिन सी आपके एस्ट्रोजन के स्तर को कम कर सकता है और प्रोजेस्टेरोन के स्तर को कम कर सकता है। इससे गर्भाशय सिकुड़ जाता है और गर्भाशय का अस्तर टूट जाता है, जिससे मासिक धर्म की शुरुआत होती है।

अनानास खाएं।

अनानास ब्रोमेलैन (Bromelain) का एक समृद्ध स्रोत है, एक एंजाइम जो एस्ट्रोजेन और अन्य हार्मोन को प्रभावित करने के लिए माना जाता है।

अदरक अपने डाइट में शामिल करें।

अदरक पीरियड्स को प्रेरित करने के लिए एक पारंपरिक उपाय है और माना जाता है कि यह गर्भाशय के संकुचन का कारण बनता है। अदरक खाना अच्छा नहीं होता है। इसलिए इसे लेने का सबसे आसान तरीका अदरक की चाय बनाना है। इस विधि का उपयोग करने के लिए, एक कटा हुआ अदरक का एक ताजा टुकड़ा, पांच से सात मिनट के लिए पानी के पैन में उबालें। चाय पीने और पीने से पहले स्वाद के लिए शहद या चीनी डालें।

हल्दी लेना है रामबाण उपाय Periods late की समस्या से बचने के लिए।

यह एक अन्य पारंपरिक उपाय है। जो कुछ लोगों द्वारा एक सबसे अच्छा उपाय माना जाता है। यह एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के स्तर को प्रभावित करके काम करने वाला है, हालांकि वैज्ञानिक अनुसंधान में कमी है।

हल्दी को अपने आहार में शामिल करने के कई तरीके है। आप इसे करी, चावल याँ सब्जी के व्यंजनों में शामिल कर सकते है।

याँ आप इसे वार्मिंग ड्रिंक (Warming Drink) के लिए भी इस्तेमाल कर सकते है। अन्य मसालों और मिठास के साथ पानी या दूध में मिलाकर भी सेवन कर सकते है।

विश्राम करने की अच्छे से आदत डालें।

जब हम तनाव महसूस करते है, तो हम कोर्टिसोल याँ एड्रेनालाईन जैसे हार्मोन का उत्पादन कर सकता है।

हार्मोन एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के उत्पादन को रोक सकते है, जो नियमित मासिक धर्म चक्र को बनाए रखने के लिए आवश्यक है।

अन्य कुछ और बातें जीन पर गौर करना है, ज़रूरी।

  • थायरॉयड ग्रंथि, पिट्यूटरी ग्रंथि, भी Periods late करने की समस्या को बढ़ावा दे सकती है।
  • अधिक व्यायाम करने से भी आपकी सेहत को काफी नुकसान हो सकता है। खासकर जो लोग Athletics में है, उन्हें ज़्यादा ध्यान देने की जरूरत है।
  • हमेशा अपनी पीरियड्स की तारिक को लिख कर रखें।
  • कई लोग यदि महंदी लगते है याँ बालों को धोते है तब भी वह जल्दी पीरियड्स में हो जाते है।