कमर दर्द की समस्या का करना चाहते है अंत, आसान तरीके से? तो अपनाएं यह तरीके!

0
403

कमर दर्द की समस्या से आज हर दूसरा व्यक्ति पीड़ित है। चाहे वह कोई छोटा बच्चा हो, कोई एडोलसेंट उम्र का व्यक्ति यां कोई बुजुर्ग। यूं तो कमर दर्द की समस्या के कई सारे कारण है। किन्तु, उसमें से मुख्य और जो प्राकृतिक कारण भी है – बढ़ती उम्र के साथ व्यक्ति की सेहत में कमजोरी होना कमर दर्द की समस्या उत्पन करती है। आज के समय में कमर दर्द की समस्या यूं तो आम है, परन्तु इसका सही समय पर इलाज ना किया जाए तो यह गंभीर भी ही सकता है।

आज के समय में लगातार कंप्यूटर, लैपटॉप में बैठ के काम करने से व्यक्ति तरक्की तो कर लेता है। किन्तु, इससे शारीरिक रूप से व्यक्ति कमजोर होने लगता है। यदि, वह व्यायाम और कसरत ना करें तो। आज के समय में बच्चे तक इस Back pain का शिकार होते है, लगातार कंप्यूटर, गैजेट्स का इस्तेमाल करने से। यह दर्द 30+ काफी बढ़ जाता है।

आइए जानते है, की कमर दर्द क्यों होता है?

  • सामान्य कारणों में शामिल है, मांसपेशियों में खीचाव, ऐंठन।
  • एक ही अवस्था में बैठे रहना और हाथों का प्रयोग ना करना।
  • ठीक से न बैठना, सोना, खड़े रहना।
  • मेटाबोलिक रसायनों की कमी कमर दर्द का कारण बन सकती है।
  • भारी वजन उठाना गलत तरीके से।
  • ट्यूबरक्यूलोसिस आदी।

पीठ एवँ कमर दर्द दिल के दौरे का संकेत भी हो सकता है, खासकर अगर यह लक्षण भी हो तो  

  • छाती में दर्द
  • चक्कर
  • जी मचलना 
  • हाथ, जबड़े या गर्दन में दर्द 
  • एक गुर्दा संक्रमण के कारण उल्टी, बुखार, मतली और पीठ में दर्द हो सकता है।
  • गुर्दे के संक्रमण का कारन पीठ में दर्द भी हो सकता है, यदि यह लक्षण हो तो 
  • पेट में दर्द
  • मूत्र में रक्त
  • पेशाब करते समय जलन होना
  • ठंड लगना
  • बुखार
  • लगातार पेशाब आना
  • जी मचलना 
  • मूत्र संबंधी आग्रह
  • उल्टी

लक्षण आमतौर पर पूरे दिन में मौजूद होते हैं, हालांकि कुछ लोग खाने के बाद उन्हें अधिक नोटिस कर सकते हैं। जो कोई भी संदेह करता है कि उन्हें गुर्दे का संक्रमण है, जटिलताओं को रोकने के लिए चिकित्सा पर ध्यान देना चाहिए। गुर्दे के संक्रमण के कारण उल्टी, बुखार, और पीठ में दर्द हो सकता है।

अब हम जानेंगे, कमर दर्द की समस्या को खत्म करने के लिए

Exercise

इस शब्द को सुनते ही व्यक्ति को आलास आने लगती है। परन्तु, यह स्वाभाविक है इसमें किसी की कोई गलती नहीं है। अभी समय ही ऐसा हो गया है, की लोग कम से कम शरारिक काम करना चाहते है। 

हर रोज़ इसे करने से पीठ एवं कमर दर्द की समस्या से आपको जल्दी ही छुटकारा मिलेंगे।

इस एक्सरसाइज को आप घर बैठे ही कर सकते है। इस महामारी के चलते भी यह समस्या अधिक हो गई है। किन्तु, इस अंधेरे के खत्म होने के बाद भी आप इन एक्सरसाइज को जारी रखें। इससे आपको भी संतुष्टि होगी और दर्द में भी सुधार होगा।

Prone Lying 

2 मिनट के लिए पेट के बल लेटने से शुरुआत करें और अपने “अच्छे समय” के बारे में सोचें। दो मिनट याँ कुछ समय के लिए ही सही परन्तु, ऐसा करने आपको चन seconds में ही फर्क नज़र आएगा।  ज़मीन पर चटाई पर लेते यां फिर बिस्तर पर पेट के बल 

ट्वीट्स (twists )

घर में यां कहीं पर भी आप लगातार बैठे रहते है तो बीच में आप यह streching exercise  करें। 

  • वैसे तो आराम करना ज़रूरी होता है, किन्तु अधिक नहीं।  इसीलिए जब आप लगातार बैठे रहते है तब आप यह एक्सरसाइज को करें बिच में समय मिलने पर याँ बिच में से समय निकले इस एक्सरसाइज को करने के लिए। 
  •  इसके लिए आपको सबसे पहले अपनी स्तिथि में बदलाव करना होगा। आप एक चटाई बिछा कर निचे बैठ जाए।  
  • अब अपने शरीर को मोड़ते हुए अपने बाएं पैर को थोड़ा सा घुमाएं और पूरे शरीर को ऊपर और दाईं ओर झुकाएं, जिससे आपकी भुजाएं पूरे समय सीधी रहें।

वजन को वापस प्रारंभिक स्थिति में लाएं। एक तरफ 8 से 15 प्रतिनिधि करें, और फिर दूसरी तरफ दोहराएं।

बैक एक्सटेंशन से कमर दर्द की समस्या से पाएं राहत 

आपको यह एक्सरसाइज करने के लिए सबसे पहले mat बिछाना होगा। 

  •  फिर उस मेट पर अपने पेट के बल लेट जाना है।  
  • अब अपने छाती के बगल में अपने हाथों को सीधा रखें फिर अंदर की तरफ साँस लेते हुए अपने चेस्ट को आकाश की ओर उठाएं।  
  • तक़रीबन 7 – 8 सेकंड तक अपने शरीर के ऊपरी हिस्से को जितना ऊपर उठा सकते हो उतना उठाएं।  किन्तु, जितनी आपकी क्षमता हो उतनी ही ऊंचाई तक करें अधिक प्रयास ना करें।  
  • अब आप अपने आर्म्स एवँ पूरी बॉडी का स्ट्रेस रिलीज़ करते हुए अपनी साँस बहार छोड़ें और  फिर से पहले वाली मुद्रा में आ जाएँ। 

Partial Crunches 

  • इन करुन्चेस को करने से आपके पीठ एवं पेट के निचले वाले हिस्से का दर्द कम होने लगेगा। 
  • एक चटाई पर लेट जाएँ। अपने पैरो को फर्श पर अपने घुटनो के बल झुककर रखें।  
  • अपने हाथों के साथ अपने सिर के पीछे या अपनी छाती के साथ अपने कंधों को फर्श से ऊपर की ओर उठाएं। स्मरण रहें की आपके पेट की मासपेशियाँ चुस्त एवँ मजबूत रहें।  
  • कंधो को उठाते समय साँस छोड़े और अपनी कोहनी के साथ अग्रणी से बचे या अपनी गर्दन को बांहो के साथ फर्श से हटा दें।  
  • 5 – 10 बार दोहराएँ।

क्या नहीं खाना चाहिए आपको ?

अल्कोहल, ब्रेड, कैफीन, चॉक्लेट, तीखा एवँ ज़्यादा मीठा खाना, टमाटर आपको ज़्यादा नहीं खाना चाहिए। 

Back Pain के लिए व्यायाम 

आपको यह सब व्यायाम भी ज़रूर करना चाहिए –

  • Cat-Cow Pose
  • Downward Facing Dog
  • Cobra Pose
  • Locust Pose
  • Bridge Pose
READ  मसूड़ों के Khoon से Milega छुटकारा - कीजिए यह इलाज।