Hath ke कलाई के दर्द से छुटकारा और जानिए वजह।

कलाई हमारे शरीर और जीवन में एक मुख्य भूमिका निभाती है। कई बार कलाई पर चोट लग जाती है, तो हम नजर अंदाज़ कर देते है। परन्तु, कई बार इसे नज़रअंदाज़ करने से यह दर्द एक हानिकारक समस्या बढ़ सकता है। 

परन्तु कलाई में दर्द होने की वजह क्या है?

कलाई में चोट लगने से, मोच आने से, या फ्रैक्चर के कारण दर्द होता है। ज़्यादा वजन उठाने से या फिर ज्यादा लिखने, टाइपिंग करने से भी दर्द होता है। कई बार कलाई का दर्द कुछ समस्याओं जैसे कि दोहराए जाने वाले तनाव, गठिया और कार्पल टनल सिंड्रोम के परिणामस्वरूप भी हो सकता है। कलाई में दर्द होने के कई कारण है, तो ऐसे में सटीक अंदाज़ लगाना मुश्किल हो सकता है। परन्तु, आज विज्ञान इतना आगे है तो दर्द की असली वजह जानने में काफी आसानी होती है।

कब डॉक्टर को दिखाने की नौबत आ सकती है?

कलाई के दर्द में डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं होती है। मामूली मोच और अपभेद अक्सर बर्फ, आराम और OTC दर्द की दवाइयों का सेवन करने से ठीक हो जाता है। कमज़ोरी ना होने पर भी भारी सामान नहीं उठा पाना। लेकिन अगर दर्द और सूजन कुछ दिनों से अधिक समय तक रहे या बदतर हो जाए, तो अपने डॉक्टर को अवश्य दिखाएं। ज़्यादा देर से समस्या और भी गंभीर हो सकती है। कलाई का दर्द किसी को भी हो सकता है – चाहे आप बहुत गतिहीन हों, बहुत सक्रिय या कहीं बीच में। लेकिन कई बार दर्द काफी बढ़ भी जाता है। 

गंभीर समस्या उत्पन होने पर कई टेस्ट करने है डॉक्टर जैसे ब्लड टेस्ट, यूरिनरी टेस्ट, X-ray, आदि।

कई बार दर्द है या नहीं वो जानने के लिए मध्य तंत्रिका (median nerve) के ऊपरी हिस्से को हलके से दबाते है और  इलेकट्रोम्योग्राफी (electromyography) भी करते है।

कलाई में दर्द से बचने के उपाय।

  • ऐसी सोल (Sole) के जूते पहने इसे पहने से आप गिरने से बच सकते है। क्योंकि, कई बार गिरने से भी गंभीर चोट आ सकती है।
  • हर व्यक्ति को अपने डाइट में कम से कम 500 मिलीग्राम कैल्शियम अवश्य शामिल करना चाहिए। इससे हड्डियां मजबूत होती रहती है।
  • बार-बार ब्रेक ले यदि आप कुछ लिखते हो या टाइपिंग करते हो तो। 
  • सुरक्षित उपकरणों को पहने स्कतिंग जैसे आदि खेलों के समय। इससे आप गिरने के बाद भी सुरक्षित रहेंगे।
  • व्ययाम करना तो शरीर के लिए हमेशा से अच्छा होता ही है। दर्द के अनुसार ही वयायम करे।
  • पैन किलर या इबूप्रोफेन(ibuprofen) जैसी दवाइयों का सेवन करे।
  • छोटे बॉल या कोई पेंसिल को पकड़ कर अपने हाथो की मालिश करे।

कृप्या, दर्द के समय खटी चीजों का सेवन ना करे।

कई सूत्रों से पता चला है की, कलाई में दर्द की समस्या पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ज्यादा होती है। ठंड के मौसम में यह दर्द अधिक बढ़ जाता है। 

READ  Pyaz ke Fayde Balo Ke Liye