Kuch Second की Smoking भी आपकी Immunity कर सकती है कमज़ोर! कृपया दूर रहे।

0
75

किसी भी तरीके से धूम्रपान करना मतलब यमराज को सामने से आमंत्रित करना। सिर्फ धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को ही नहीं परन्तु, इसे आस-पास के लोगो को एवं पर्यावरण को भी काफी नुकसान होता है। स्मोकिंग में तार, कार्बन मोनोऑक्साइड, जैसे हानिकारक तत्व मौजूद होते है। आज-कल के बच्चे एवं युवा भी स्मोकिंग की लत लगा बैठे है, वो धूम्रपान तो ऐसे करते है जैसे कोई बहुत अच्छा काम कर रहे हो। 

क्या धूम्रपान करने से आपकी सेहत पर कोई असर नहीं पड़ता है?

जवाब है नहीं, यदि आप पल भर भी नियमित रूप से स्मोकिंग करते हो, तो भी ये आपकी ज़िंदगी खराब कर सकता है। स्मोकिंग करने की आदत से आपकी सेहत पर सिर्फ बुरा है असर पड़ता है। स्मोकिंग करने से आपका पूरा शरीर नस्ट हो जाता है, आपकी किडनी, हड्डियाँ, इम्यूनिटी, फेफड़े जैसे आदि अंग हमेशा के लिए खत्म हो सकते है। शुरू में तो कुछ नहीं होता परन्तु, धीरे-धीरे आपकी धूम्रपान करने की आदत पूरे शरीर को अंदर एवं बाहर से भी खत्म कर देती है। यदि, आप पहले से ही किसी बीमारी से जुज रहे है तो कृपया धूम्रपान ना करे। धूम्रपान करने से ब्रेन ट्यूमर, किडनी एवं आदि आंगो के कैंसर होते है। हर साल लाखों की संख्या में लोग धूम्रपान करने की वजह से अपनी जान गवा बैठते है।

आस-पास पर प्रभाव।

धूम्रपान करने से आप खुद तो नष्ट होते ही है, पर साथ साथ आस-पास के लोगो को भी खत्म कर देते है। कई लोग यह सोचते है, की धूम्रपान अगर घर के बाहर जा कर किया तो घर वालो पर कोई असर नहीं होता। परन्तु, यह एक भ्रम है धूम्रपान करने का असर तक़रीबन अगले 24 घंटे तक होता है और चोट बच्चे एवं को व्यक्ति पहले से ही बीमार हो उन पर तो सबसे पहले। पैसिव स्मोकिंग से सबसे ज्यादा असर पढ़ता है,आस-पास के लोगो पर। 

युवाओं पर असर।

कहते है, की ,“आज के युवा ही देश का भविष्य है”। परन्तु, आज के कई युवा तो एक दूसरे को देख कर कोई अच्छी चीज सीखे ना सीखे व्यसन करना जरूर सीखते है। बच्चे टीवी या मोबाइल में देख कर व्यसन तो करते है, परन्तु वो लोग ये नहीं देखते की नीचे लिखा होता है व्यसन करना सेहत के लिए हानिकारक है और वो तो बस नाटक करते है असली में नहीं। अब तो 15-16  साल के बच्चे भी धूम्रपान करने की आदत के कारण अपनी जान गवा बैठते है, ना जाने उनके माता-पिता पर क्या बित्ती होगी ये जानकर की उनके बच्चे की मौत धूम्रपान करने की वजह से हुई है। परन्तु, कई बार गलती माता पिता की ही होती है,  यदि  वो खुद ही धूम्रपान करते हो तो बच्चा भी वैसा ही होगा।

धूम्रपान की आदत से छुटकारा केसे पाए।

“ जहां कदम रखा वहां से ही शुरुआत कीजिए”। यदि, आप सच में धूम्रपान को चोदना चाहते है तो यह आपका बहुत ही अच्छा फैसला है। सबसे पहले डॉक्टर को दिखाईए ट्रीटमेंट करवाइए, यदि जरूरत पड़े तो पुस्कॉलजिस्ट की सलाह ले, किसी ऐसे व्यक्ति से बात करे जिसे ऐसा कोई व्यसन ना हो। शुरुआत में कई मुश्किल आएगी परन्तु, फिर धूम्रपान को हाथ भी मत लगाना। कभी भी मन हो स्मोकिंग करने का तब कोई चॉकलेट खा लेना, व्यायाम करे, खुद को व्यस्त रखना काम में, स्मोकिंग के अलावा कोई ऐसा काम करना जो आपको पसंद हो, जैसे- फुटबॉल खेलना, टीवी देखना आदि। भूतकाल में कई बड़ी हस्तियां ने भी धूम्रपान से छुटकारा पाया है। सबसे महत्वपूर्ण बात उमिद ना खोए, भूलिए मत उम्मीद पर ही दुनिया कायम है।

सब जगह ऐसे ही नहीं लिखा होता की ‘धूम्रपान करना हानिकारक है’ यह आपकी ज़िंदगी और मौत का सवाल होता है।

READ  झड़ते बालों को कर दीजिए बाय-बाय - सिर्फ कुछ घरेलू उपाय से!

कृप्या धूम्रपान ना करे और यदि आपके कोई मित्र, या आस-पास कोई ऐसा करे तो उन्हें प्यार से समझाइए की वह खुद के साथ-साथ उनके परिवार एवं उनके आस-पास के लोगो की भी जान जोखिम में डाल रहे है।