Dengue fever को जड़ से खत्म करने के लिए अपनाएँ इन घरेलू उपाय को।

0
172

Dengue fever अब हो सकता है control, कुछ उपायों की सहायता से। यह बीमारी मच्छर के Bite करने से फैलती है। कई बार यह पानी के कारण भी उत्पन होती है। इस बीमारी का प्रभाव बारिश के मौसम में बढ़ने की संभावना अधिक होती है। क्योंकि, बारिश में अधिक पानी भी होता है और मच्छर भी। यह बीमारी कई बार जानलेवा भी साबित होती है।

Dengue वायरस के चार अलग- अलग टाइप है (DEN 1, DEN 2, DEN 3 और DEN 4)। इसके लक्षण मच्छर के काटने के कुछ  दिन बाद दिखाई देते है, तुरंत नहीं। Dengue बुखार एक फ्लू जैसी बीमारी है जो शिशुओं, छोटे बच्चों और वयस्कों को समान रूप से प्रभावित करती है। ” इस बीमारी की एक अधिक गंभीर बात यह है कि इससे 10 से कम वर्ष के बच्चे भी इससे प्रभावित हो सकते है। ऐसे बच्चों को पेट दर्द ज़्यादा रहता है।

संकेत और लक्षण इस बीमारी के।

dengue fever se kaise bache?

Platlet में गिरावट Dengue fever का एक मुख्य लक्षण है। सबसे आम लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द और त्वचा पर चकत्ते शामिल है। यदि आप कुछ दिनों में निम्नलिखित अनुभव करते है, तो डॉक्टर को अवश्य दिखाएँ –

  1. अचानक, तेज बुखार
  2. गंभीर सिरदर्
  3. आंखों के पीछे दर्द
  4. गंभीर दर्द जोड़ो और मांसपेशियों में 
  5. थकान और थकावट
  6. उल्टी
  7. त्वचा पर चकत्ते
  8. यह एक मच्छर जनित बीमारी है, जो हर साल एक बड़ी आबादी को प्रभावित करती है। समय पर स्थिति का इलाज करने के लिए Dengue बुखार में तत्काल चिकित्सा की आवश्यकता होती है।

 कुछ प्रभावी घरेलू उपचार है, जो Dengue के लक्षणों को नियंत्रित करने में मदद कर सकते है। यह उपाय तेज बुखार को नीचे ला सकते है, और आपको लक्षणों से थोड़ी राहत दे सकते है। यहां कुछ उपाय दिए गए है, जो Dengue और इसकी जटिलताओं को नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकते है।

क्या करना चाहिए आइए जानते है?

डेंगू (dengue) को जड़ से ख़त्म kare

मेथी के बीज – Dengue Fever में है फायदेमंद।

मेथी के बीज भी कई पोषक तत्वों से भरपूर होते है, जो Dengue बुखार को नियंत्रित करने में मदद करते है। आप एक कप गर्म पानी में कुछ मेथी के बीज भिगो कर। रखें। फिर  पानी को ठंडा होने दें और इसे दिन में दो बार पियें। मेथी का पानी आपको अन्य स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करेगा क्योंकि यह विटामिन C, K और फाइबर से भरपूर है। मेथी का पानी बुखार को कम करेगा और प्रतिरक्षा को बढ़ावा देगा। 

गिलोय (Giloy)

आयुर्वेद में गिलोय एक बहुत ही महत्वपूर्ण जड़ी-बूटी है। इसका आकार हृदय की तरह होता है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है, और आपके शरीर को संक्रमण से बचाता है। आप इसके मिश्रण में तुलसी भी डाल सकते है।

आप उपजी को उबाल लें और इसे हर्बल पेय के रूप में परोसें। आप पेय में तुलसी के कुछ पत्ते भी मिला सकते है। 

पपीते के पत्तों का रस।

Dengue के मरीजों में जैसे ही  प्लेटलेट काउंट (Platlet count) कम होता है,  प्लेटलेट काउंट (Platlet count) बढ़ाने के लिए पपीते के पत्ते का रस एक बेहतरीन उपाय है। पपीते के पत्ते का रस इम्युनिटी को बेहतर बनाता है जो Dengue के इलाज में भी मदद करता है। Dengue के लिए पपीते के पत्तों का उपयोग करने के लिए, पपीते के कुछ पत्तों को लें और उन्हें उसमें से रस निकालने के लिए कुचल दें। बेहतर परिणाम के लिए आप दिन में दो बार पपीते के पत्ते के रस का थोड़ी मात्रा में सेवन कर सकते है।

अमरूद का जूस।

यह विटामिन C से भरपूर होता है जो इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है। Dengue बुखार के इलाज के लिए आप अपने आहार में ताजा अमरूद का रस शामिल कर सकते है। अमरूद का रस आपको अन्य स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करेगा। एक कप अमरुद का रस दिन में दो बार पिएँ। आप जूस की जगह ताज़े अमरूद भी खा सकते है।

तुलसी के साथ शहद का करें उपयोग – Dengue Fever

Dengue से बचाव के लिए अपनाएँ यह बेहतरीन उपाय। आपको सबसे पहले एक बर्तन में पानी उबालें उसमें तुलसी और शहद मिलाकर पिएँ। आप तुलसी का उपयोग खाने में भी कर सकते है।

हल्दी का करें इस्तेमाल।

हल्दी इम्यूनिटी के लिए रामबाण मसाला है। जितना हो सके उतना अपने खाने में इसका प्रयोग करें। इसमें मौजूद Anti-bacterial गुण जिसकी मदद से यह कई बीमारियों से छुटकारा दिलवाता है। आप हल्दी का प्रयोग दूध के साथ भी कर सकते है।

विटामिन C को करें अपने Diet में शामिल। 

स्वस्थ रहने में सबसे अधिक योगदान यह विटामिन का होता है, ऐसा माना जाता है। इससे कई बीमारियां खत्म होती है।

अनार

अनार आवश्यक पोषक तत्वों और खनिजों में समृद्ध है। जो शरीर को आवश्यक ऊर्जा प्रदान करता है। अनार के सेवन से थकावट और थकान की भावना कम हो जाती है। अनार रक्त के लिए काफी फ़ायदेमंद है, क्योंकि इसमें iron भी होता है।। यह एक सामान्य रक्त  प्लेटलेट काउंट (Platlet count) को बनाए रखने में भी मदद करता है जो Dengue से उबरने के लिए आवश्यक है। अनार का उपयोग प्राचीन काल से ही इसके स्वस्थ और औषधीय गुणों के लिए किया जाता रहा है।

 नारियल पानी – Dengue Fever

Dengue के परिणामस्वरूप आमतौर पर निर्जलीकरण होता है। इस प्रकार, नारियल पानी का सेवन करना बेहद फ़ायदेमंद है।

  • आप दही एवं अन्य चीज़ों का भी सेवन कर सकतें है।
  • मौसंबी एवं संतरे का जूस पिए।
  • हरी सब्जियों का करें सेवन।
READ  Alert! पेट में हो Sakte है, कई तरह के कीड़े

किन और बातों का रखें ख्याल – Dengue Fever में?

Dengue fever एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है। आप अपने आस-पास को साफ रखने और सुरक्षात्मक कपड़े पहनकर बीमारी के जोखिम को रोक सकते है। Dengue मच्छर आमतौर पर दिन के दौरान हमला करता है और कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि पसंदीदा स्पॉट कोहनी के नीचे और घुटने के नीचे है। वे आमतौर पर अगस्त-अक्टूबर की समय अवधि के बीच सक्रिय होते है और तापमान गिरने पर प्रजनन नहीं करते है। आप अपने आप को मच्छरों के काटने से बचाने के लिए लैवेंडर, नीम ऑइल और दालचीनी ऑयल जैसे प्राकृतिक रिपेलेंट्स की ओर रुख कर सकते है।