बारिश के मौसम में सेहत का कैसे रखें ख्याल? जानिए!

0
31

बारिश के मौसम में गरमी से राहत और बारिश की बूंदों का गिरना एक अलग तरह की खुशी देता है। यह मौसम जैसे ही शुरू होता है, वैसे ही एक रोमांचक माहौल सब जगह बनने लगता है। भारत में उष्णकटिबंधीय जलवायु (Tropical climate) है, जिससे यह मौसम और भी अधिक जादुई और तीव्र हो जाता है!

किन्तु, क्या आप जानते है कि बारिश का मौसम उमंग, वातावरण को प्रफुल्लित करने के साथ-साथ बीमारियों को भी लाता है?

परन्तु, आप घबराइए नहीं हम आपको इस लेख में इस मौसम में अपना खयाल कैसे रखें यही बताएँगे। ताकि आप Rainbow, Greenery और बारिश का मज़ा अच्छे से ले पाएँ।

आइए जानें बारिश के मौसम में कैसे रखें अपनी सेहत का खयाल?

बरसात के मौसम में अपनी सेहत का ख्याल!

Monsoon वह मौसम होता है, जब आपका दिल और दिमाग, निश्चिंत रूप से अच्छा महसूस करने लगता है। जब भारी बारिश होती है, तो आपका दिल निश्चिंत रूप से सिर्फ दो चीजें चाहता है, एक है रोमांस और दूसरा है स्वादिष्ट भोजन, मुंह में पानी ला देने वाला भोजन। 

साफ पानी पिएँ बारिश के मौसम में भी।

वर्ष के इस समय के दौरान cholera और Diarrhea जैसे रोग काफी बढ़ जाते है, और ये रोग पानी से फैलते है। इसलिए यह बेहद जरूरी है, कि आप स्वच्छ पानी  पिएँ। सुनिश्चित करें कि आप जो पानी पीते है, वह filter याँ उबला हुआ हो। अनजान जगहों से पानी पीने से बचें। यदि आप यात्रा कर रहे है, तो अपनी पानी की Bottle ले जाएँ याँ शुद्ध पानी की Bottle खरीदें। इसके अतिरिक्त, सड़क किनारे विक्रेताओं से जूस याँ अन्य  पदार्थ पीने से बचें। क्योंकि यह जोखिम भरा हो सकता है।

उबला हुआ (Warm water) पानी पिएँ।

इस मौसम में बहुत सारी बीमारियाँ होती है, यह तो आप जानते ही है। किन्तु, क्या आप यह जानते है कि इस मौसम में पानी के कारण भी कई बीमारियाँ उत्पन होती है। आप Filter water याँ warm water ही पिएँ इससे आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी और Germs का खतरा भी कम होगा। परन्तु, को 24 घंटे के अंदर ही खत्म करें। 

बारिश के पानी से होती कई समस्या।

Rain

इसके गंदे पानी के कारण बीमारियाँ तो बढ़ती ही है। किन्तु, इस पानी से face की problems भी बढ़ती है। इसीलिए गरम पानी पीना आपके लिए अति आवश्यक है।

बारिश में भीगने से बचे।

बारिश में नहाना किसको नहीं पसँद। परन्तु, अबी के वातावरण के चलते बारिश का पानी काफी हानिकारक हो गया है। इस मौसम में थोड़ी सी भी लापरवाही करना सेहत के लिए नुकसानदायक है। खास कर धूप हो और फिर अचानक बारिश में तो बिल्कुल भी नहीं। 

पानी की मात्रा में आता है, फर्क – बारिश के मौसम में।

ज़्यादातर लोगों को बारिश के मौसम में पानी पीना नहीं पसँद होता है। क्योंकि, इस मौसम में पहले से ही ठंडी होती है जिस कारण पानी भी ठंडा होता है। इसलिए लोग ज़्यादा पानी नहीं पीते है। इससे Dehydration की समस्या उत्पन होती है। जिससे रक्तचाप में बदलाव होता है, शरीर की कई और समस्याएँ बढ़ती है। इसीलिए बारिश के मौसम में पानी खूब पिए किन्तु जितना हो सके उतना गर्म पानी।

Immune system का रखें ख्याल।

गर्मी से तो सबको राहत मिलती है, बारिश के आने से। किन्तु, बारिश के कारण बहुत सी समस्याएँ भी उत्पन होती है सेहत के लिए। इससे maleria जैसी अन्य कई बीमारियाँ होनी। इस मौसम में लोगों को immunity system का भी ख्याल रखना चाहिए जो लोग नहीं रखते है।

आइए जानते है, Immunity system को मजबूत रखने के उपाय।

  • अदरक की चाय पिएँ। आप चाहे तो Herbal tea याँ फिर Green tea भी पी सकते है। यह भी आपके लिए फ़ायदेमंद होगी।
  • हल्दी वाले दूध पीने की आदत डालें।
  • तुलसी के पत्तों का सेवन करें। आप चाहे तो इन पत्तों को पानी में उबाल कर भी उपयोग कर सकते है।
  • खाने के साथ प्रतिदिन सलाद का सेवन करें। जिसमें खीरा, टमाटर, मुली, Corn, प्याज़, गाजर, आदि का उपयोग करें।

आइए अब जानते है, कई और चीज़ें जिनका रखना होगा आपको खयाल।

  • सुनिश्चित करें कि आपके आस पास का हाइजीन अच्छा है। चाहे घर हो याँ काम, सुनिश्चित करें कि आपका परिवेश (enviorment) साफ और मच्छरों एवं अन्य कीड़ों से मुक्त हो।
  • सब्जी की Quality देख कर ही सब्जी खरीदे। कभी भी कीड़े एवं गंदी सब्जियाँ ना खरीदे।
  • धो कर याँ फिर पानी में उबाल कर ही सब्जी का प्रयोग करें। इससे सब्जी में मौजूद Bacteria एवं कीटाणु भी खत्म हो जाएँगे। 
  • सर्दी खांसी याँ बुखार आने पर तुरंत दवाई का सेवन करें। कई बार इस छोटी सी बीमारी को नज़रंदाज़ करने का परिणाम काफी खतरनाक साबित होता है। 

जैसा कि आप सब जानते है, दोस्तों की परिवर्तन सँसार का नियम है। इसीलिए तो हर मौसम एक नया उत्सा और नई चुनौती लेकर आता है। हमें बस उस वक्त के अनुसार खुद को बदल ना है। बस हमें अपनी सेहत का अच्छे से खयाल रखना है, हर मौसम में।

READ  Pitt Ki Bimari होती कैसे है और क्या है इसका घरेलु इलाज?

Street food को कर दीजिए BIG NO!

Rain

यह मौसम में फ्लू एवं Virus attack कि सँख्या बहुत अधिक मात्रा में पाई जाती है। किन्तु, इस मौसम में steamed पकोड़े और समोसे से अच्छा तो कुछ हो ही नहीं सकता। परन्तु, आप इस मौसम में जितना हो सके उतना स्ट्रीट फूड खाने से बचें। इस मौसम में Dengue, Maleria जैसी अन्य बीमारियाँ बहुत ही अधिक हो जाती है। यह मौसम में स्वाभाविक रूप से भूख अधिक लगती है, किन्तु ऐसे समय में आप घर का भोजन करें तो वह आपके लिए उचित होगा।

नाश्ते में याँ Snacks में क्या शामिल करें?

अपने आहार में बहुत सारे अखरोट, बादाम, prunes और खजूर शामिल करें। ये ऊर्जा और Antioxidant के समृद्ध स्रोत है।

क्या क्या पीने में शामिल करना चाहिए?

शहद और अदरक गले की खराश का अचूक इलाज है। आधा अदरक को पीस लें, सही प्राकृतिक उपचार के लिए एक चम्मच शहद जोड़ें। शहद एक बढ़िया विकल्प प्राकृतिक स्वीटनर है जो वसा, कोलेस्ट्रॉल और सोडियम से मुक्त है।

एक Rainbow प्लेट।

अपने दैनिक आहार में सब्जी और फलों के तीन रंगों को शामिल करें। जबकि आपको वर्ष के दौरान इस नियम से चिपके रहना चाहिए, इस मौसम के दौरान यह अतिरिक्त महत्वपूर्ण हो जाता है। चेरी, आदु और आलूबुखारे सहित monsoon के फल प्राकृतिक Anti-oxidant और विटामिन से भरपूर होते है। साथ ही सँक्रमणों से लड़ने के लिए प्रतिरोधक क्षमता का निर्माण करते है।

आइए दोस्तों अब हम आपको बताएँगे कुछ ऐसे स्वादिष्ट एवं healthy खाद्य पदार्थों के बारे में जिसे जानकर आपके मुंह में से पानी आ जाएगा।

READ  मात्र Dialysis ही नहीं है, इलाज गुर्दे की समस्या ka

तो चलिए जानते है, बारिश के मौसम में कौन सी Healthy और Tasty चीज़े खानी चाहिए।

भुट्टा (corn)।

मसालेदार खाना किसको नहीं पसँद होता है? ख़ासकर बारिश के मौसम में। इस मौसम में मसालेदार भुट्टा खाना ठंडी हवा का मज़ा लेते हुए। तो जैसे हो “सोने पर सुहागा”। इसमें विटामिन B 12 एवं iron बहुत ही अच्छी मात्रा में पाया जाता है। जिससे आपकी सेहत अच्छी रहती है। किन्तु, भुट्टा खराब नहीं होना चाहिए। यह बात आप सुनिश्चित करें।

Healthy पकोड़े बनाएँ घर में।

बारिश का मौसम हो और पकोड़े ना हो तो फिर मज़ा ही क्या! किन्तु, बहार के नहीं घर पर बने हुए पकोड़े। आप घर पर पकोड़े को Bake के सकते है, Mixed vegetables पकोड़े बना सकते है। यह पकोड़े आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक भी साबित नहीं होंगे और आप बारिश का मज़ा भी ले सकते है। इसका मज़ा दो गुना करने के लिए पुदीने की चटनी के साथ खाएँ।

समोसा (samosa)।

इस मौसम में समोसा ना खाएँ ऐसा तो कैसे हो सकता है। वो ज़माना गया जब आपके पास सिर्फ एक ही विकल्प होता था समोसे का वो था आलू का समोसा। किन्तु, अब आप पनीर, एवं अन्य सब्जियों का समोसा भी खा सकते है। समोसे को अधिक fry  ना करें। 

मसाला चाय।

सोचिए हाथ में मसाला चाय का प्याला हो। साथ ही अपने पसँदीदा music track को सुनते हुए अपनी छत पर बैठें हो और बारिश की बूंदों का आनंद लेने से बेहतर क्या हो सकता है? अदरक और हरी इलायची से युक्त एक कप मजबूत, मसाला चाय एक सबसे अच्छा विकल्प होगा। किन्तु, आप Herbal tea का भी मज़ा ले सकते है।

सूप।

आप सूप का सेवन करें इस मौसम में। टमाटर का सूप, हरी सब्जियों का सूप, याँ फिर कोई भी आपका मनपसँद सूप घर पर बना कर पिएँ। गर्म सूप पीने से आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी और स्वस्थ सँबंधित बीमारी भी कम होगी। इस मौसम में सूप पीना बहुत अच्छा होता है। आप लहसुन, अदरक, प्याज़, जैसी चीजों को डालें सूप में। इससे सूप स्वादिष्ट भी होगा और असर कारक भी।

कुछ महत्वपूर्ण Tips!

बाहर जाते समय छाता, Raincoat carry करें। Rashes और फंगल infection को रोकने के लिए अपने पैरों को साफ और सूखा रखें। अगर आपके बाल यां कपड़े नम है,  तो A/C ( Air conditioner)  वाले कमरों से बचें। गर्म कपड़े पहनें और अपने शरीर को मध्यम सूखा और गर्म रखें।

अपने भोजन में हल्दी, सरसों, हींग, धनिया, लौंग, काली मिर्च, दालचीनी, लहसुन, अदरक और करी पत्ते जैसे प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले मसालों को शामिल करें। ये पाचन में मदद करते है, और इसमें Anti-Bacterial गुण होते है।

“अपने शरीर की उचित देखभाल करने से न केवल आप स्वस्थ रहेंगे, बल्कि यह Monsoon के मौसम को और अधिक सुखद बना सकता है”।

READ  आँखों के नीचे सूजन Kyon Hoti है - Kya Hai इसकी वजह? Kya करे?

Happy Monsoon!!