स्वस्थ Jeevan जीना हो तो, तंबाकू को कर दीजिए – BIG NO!

0
166

क्या आप जानते है, तंबाकू खाने का मतलब होता है ज़हर खाना, फर्क सिर्फ इतना है कि ज़हर खाने से व्यक्ति तुरंत मरता है और तंबाकू खाने से कुछ समय बाद। आज का लेख उन लोगो के लिए है, जो सचमें तंबाकू का सेवन करना छोड़ना चाहते है। तंबाकू में तकरीबन 20+ तरह के कार्सिनोजेनिक तत्व होते है जिनसे कैंसर हो सकता है। हर साल तक़रीबन तंबाकू के सेवन के कारण लाखों करोड़ों लोगों की जान जाती है।

उसमे से कई तत्व नीचे बताए गए है।

  • निकोटिन – जो Insects को मारने के लिए इस्तेमाल होता है।
  • तार – जिससे रास्ते यानी सड़क बनाए जाते है।
  • लीड – जो तंबाकू में पाया जाता है, उससे Battery बनाने में इस्तेमाल होता है। 
  • इसके अलावा ammonia, acetone जैसे जानलेवा  तत्व मौजूद होते है।

तंबाकू के नुकसान।

तंबाकू का सेवन करने से आपके मुंह, जिब, पेट, फेफड़े, जैसे आदि अंगो में कैंसर होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। ब्लड प्रेशर नियंत्रित नहीं रहता है और दांत के सड़ने की संभावना बहुत ज़्यादा हो जाती है। गर्भवती महिलाओं को गलती से भी तंबाकू नहीं खाना चाहिए इससे माता के साथ-साथ बच्चे की जान को भी बहुत खतरा होता है। कई बार ठीक से आपको सांस लेने की भी दिक्कत आ सकती है।

आज कल के कुछ युवा देखा देखी के चक्कर में तंबाकू का सेवन करते है। उनको ऐसा लगता है, कि वो बहुत अच्छा काम कर रहे है। परन्तु, इसका परिणाम कुछ महीनों बाद नज़र आता है उनको। तंबाकू लेना अक्सर haanikarak होता है, जो कब आदत बनके इंसान को खत्म कर दे पता ही नहीं चलता।

कैसे करे अलविदा तंबाकू कि आदत को?

  1. एक लिस्ट बनाए उसमे अब तक तंबाकू खाने के आपके फायदे लिखिए ओर उसे हर रोज़ पढ़े और सवाल करे कि क्या सच में तंबाकू खाने से आपको अब तक कोई फायदा हुआ है। बेशक जवाब कभी हां नहीं हो सकता पर फिर भी जब तक आपको यह बात समझ नहीं आएगी तब तक कुछ नहीं हो सकता।
  2. खुद पर विश्वास रखे, सकारत्मक सोचे (Be Positive), ओर चाहे कोई कितना भी कहे खुद का फैसला ना बदले। शुरुआत में कोई भी चीज करने में दिक्कत तो आती ही है।
  3. यदि, फिर से खाने का मन हो तो कोई ड्राय फ्रूट्स खाए, चॉकलेट खाए, Chewing Gum या वो काम करे जिसमे आपको सबसे ज़्यादा खुशी मिलती हो तंबाकू या धूम्रपान के अलावा।
  4. योगासन एवं एक्सरसाइज करे दौड़ने की, या फिर कोई ओर Physical एक्सरसाइज में खुद को व्यस्त रखे। डॉक्टर की सलाह ले।
  5. जब भी बेचैनी हो तब यह सोचे या एक काग़ज़ में लिखे क्यों आप यह छोड़ने चाहते हो या फिर क्यों आपने यह निर्णय लिया था।
  6. किसी ऐसे खुद से बड़ी उम्र के व्यक्ति की सलाह ले जिस पर आप भरोसा करते है, ओर उन्हें ऐसी कोई आदत ना हो। 

किसी महापुरुष ने अंग्रेजी में कहा है,

You don’t need tobacco to be complete. All the happiness, comfort and peace you seek, is already inside you.

READ  Depression की बीमारी क्या है? जानिए उसके लक्षण, कारण और रामबाण इलाज।